ड्रॉपशिपिंग करने से पहले यह पढ़ ले – Digital Danish

हेलो दोस्तों अगर आप पर ड्रॉपशिपिंग या फिर ई-कॉमर्स में नया हो तो आपको कौन सी चीजें ध्यान रखनी चाहिए कौन सी ऐसी बातें हैं जिनसे आपको बचना चाहिए आज इस ब ब्लॉग में सारे ऐसी बातें डिस्कस करेंगे जो हमें हमारे बिजनेस में इंप्लीमेंट करनी है और जिन बातों से हमें बचना है. कौन-कौन सी बातें हमें नहीं करनी है? १) एक जैसी की प्रोडक्ट नहीं बेचनी है. – डिस्ट्रॉय कि हमें बाहर बार एडवर्टाइजमेंट देखती रहती है जिस प्रोडक्ट में बार-बार फेसबुक पर और ऑनलाइन स्टोर पर नजर आती है वैसे प्रोडक्ट बेचना नहीं है २) ब्रांडेड प्रोडक्ट बेचना नहीं है. – किसी भी ब्रांडेड प्रोडक्ट के लेटर के बिना उनकी चीज बिजली नहीं है अगर आप उनकी प्रोडक्ट शादी करना चाहते हैं बेचना चाहते हैं तो उनके लेटर के बिना बेच नहीं सकते हो आप. अगर आप यह करते हो तो उससे यह होता है कि जो ब्रांड होती है वह ऑब्जेक्शन उठा लेती है और आपके एड अकाउंट बंद हो जाते हैं. ३) दूसरे के एंड क्रिएटिव यूज नहीं करने हैं. – अगर किसी मार्केट अपने या फिर किसी भी ब्रांड ने जो क्रिएटिव यूज़ किया है वही क्रिएटिव आपको यूज़ नहीं करना है आप अपना ट्राई करो कि आप अपना ऐड क्रिएटिव खुद बनाओ जिसे वह नया बन जाए और फेसबुक पिक्सेल भी उसके ऊपर अच्छे से अच्छे सेल्स ला पाए और अपनी अच्छी सी अच्छी क्रिएटिविटी वहां दिखाओ. ४) किसी का भी कंटेंट कॉपी नहीं करना. जब भी अब प्राण की डिस्क्रिप्शन लिखते हो तभी किसी का भी कंटेंट आपको कॉपी नहीं करना है आप उसको थोड़ी बहुत चेंज करके उसको मॉडिफाई करके यूज़ कर सकते हो बट पूरा वही कॉपी नहीं करना है और जो डिस्क्रिप्शन होता है जो कंटेंट होता है वह यूनिक होना चाहिए उसमें आप अपनी क्रिएटिविटी दिखा सकते हो. ५) लो बजट यूज नहीं करना है. दोस्तों एक प्रॉब्लम हमने सबसे ज्यादा देखी है कि जिनको सेल नहीं आते और हम खुद को पूछते हैं कि आपका बजट क्या है तो वह बोलते हैं कि हमारा बजट सौ से ₹200 कहीं का ₹50 1 दिन का होता है तो इतने में आप अच्छी तरह से ऐड नहीं रन कर सकते हो आपका मिनिमम से मिनिमम बजे ₹500 से लेकर ₹1000 तक का हो तो होना चाहिए जो फेसबुक भी यही बोलता है तो आपको फेसबुक का रिकमेंड बजे यूज करना है जिसे आप अच्छी से अच्छी तरह फेल जनरेट कर पाओ एंड आपका जो बजट है वह अच्छी तरह से यूटिलाइज हो पाए. ६) योजना के बिना धंधा नहीं कर रहा है. आपको सबसे पहले एक योजना बना देनी है कि आप एड्रेस कैसे करोगे उसमें कितना बजट यूज करोगे आपके स्टोर में आप कितना इन्वेस्ट करोगे कहां-कहां टारगेट करोगे कौनसी ऑडियंस को टारगेट करोगे कौनसी ऑडियंस को आप भेजोगे यह सब आपको पहले से ही होश ना कर लेनी है और आपको यह सब ऑन पेपर लिख लेना है उसके बाद ही आप अपने बिजनेस को स्टार्ट करो और उसको फॉलो करो.

ड्रॉपशिपिंग करने से पहले यह पढ़ ले – Digital Danish

Open chat